हेडलाइन

12वीं के छात्र ने जान दी: अच्छे नंबर से पास हुआ था, फिर क्यों उठाया आत्मघाती कदम? पुलिस मामले की जांच में जुटी

जांजगीर-चांपा 10 जून 2024। 12वीं के छात्र ने फंदे पर लटककर जान दे दी है। छात्र का नाम नीरज रत्नाकर है। आत्मघाती कदम उसने क्यों उठाया, इसकी जानकारी पुलिस ले रही है, लेकिन अभी तक इसका खुलासा नहीं हुआ है। पूरा मामला पामगढ़ थाना क्षेत्र के सेंदरी गांव का है।नीरज पढ़ने में काफी होशियार था। जानकारी के मुताबिक रात में जब घर के सभी लोग सो गए थे, तब ये कदम उठाया है। सुबह सबसे शव को छात्र की मां ने देखा था।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

मिली जानकारी के मुताबिक मृत छात्र का नाम नीरज रत्नाकर (18) है। आत्महत्या का कारण अभी अज्ञात है। पामगढ़ पुलिस हर एंगल से तफ्तीश कर रही है। शव को नीचे उतर कर पोस्टमॉर्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है।मां ने बताया कि वह अपने बेटे के साथ घर में रहती है। नीरज के पिता ड्राइवर हैं, वह अक्सर घर से बाहर रहते हैं। उसे दिन भी मां-बेटे घर में थे।

दोनों रात में खाना खाकर सो गए थे। इसी बीच रात में बेटे ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।12वीं में वो अच्छे नंबर से पास हुआ था, लेकिन किस वजह से घातक कदम उठाया है, पता नहीं चल रहा है। अपनी परेशानियों को लेकर बेटे ने कुछ बताया भी नहीं। कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

 

Back to top button