हेडलाइन

CG- CHO की किडनैपिंग मामले में बड़ा खुलासा, महिला हेल्थ अफसर बिलासपुर से हुई बरामद, जानिये किडनैपिंग की पूरी कहानी

सक्ती 28 जिला 2024। CHO की किडनैपिंग केस में बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस ने खुलासा किया है कि महिला CHO ( कम्युनिटी हेल्थ आफिसर) का किडनैप नहीं हुआ था, बल्कि वो खुद अपने ब्वायफ्रेंड के साथ भागी थी। युवती को बिलासपुर से बरामद कर लिया गया है। दरअसल सक्ती जिले CHO की किडनैपिंग की खबर से सनसनी फैल गयी थी। पुलिस किडनैपिंग को पहले से ही सच नहीं मान रही थी। बावजूद पुलिस ने पूरी तत्परता के साथ जांच शुरू की, तो कुछ ही घंटों में मामला सामने आ गया।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

युवती अपने बॉयफ्रेंड के साथ मर्जी से भागी थी और गुमराह करने के लिए उसने किडनैपिंग की झूठी साजिश रची और घर में फिरौती मांगने के लिए भी कॉल करवाया। युवती के कॉल डिटेल और मोबाइल लोकेशन की भी जांच की गई। जांच में युवती अनुपमा की लोकेशन बिलासपुर में मिली। इसके बाद पुलिस टीम जब बिलासपुर पहुंची तो वह अपने प्रेमी के साथ मिली। फिलहाल युवती को सकुशल बरामद कर लिया गया है। पुलिस उसे लेकर सक्ती रवाना हो गयी है।

युवती के भाई कुलेश्वर जलतारे ने पुलिस से शिकायत की थी कि, वो अपनी बहन के साथ सक्ती आया था। इस दौरान उसकी बहन अनुपमा फल लेने के लिए रुकी हुई थी। इस दौरान कुछ युवक आए और उसे अगवा कर ले गए। थोड़ी देर के बाद किडनैपर्स ने भाई को फोन भी किया। किडनैपर ने कॉल कर 15 लाख रुपए फिरौती मांगी। साथ ही धमकी दी कि अगर पैसे नहीं मिले तो उसके टुकड़े कर फेंक देंगे।

पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर क्षेत्र के चारों ओर घेराबंदी कर किडनैपर्स की तलाश करने लगी। आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले गए। CHO के भाई का किडनैपर्स के साथ बातचीत का एक ऑडियो भी वायरल हो रहा है। जिसमे किडनैपर्स महिला को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने चारों ओर घेराबंदी कर किडनैपर्स की तलाश शुरू की। लेकिन जल्द ही पूरे मामले के राज से पर्दा उठ गया।

 

Back to top button