क्राइम

CG : करंट से 2 मासूम बच्चों की मौत, बाड़ी के फेंसिंग तार की चपेट में आने से हुआ हादसा, गांव में पसरा मातम

जांजगीर 4 जुलाई 2024। जांजगीर-चांपा जिला के शनिचराडीह गांव में करंट की चपेट में आने 2 मासूम बच्चों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि बाड़ी में खेलने समय दोनों बच्चे करंट प्रवाहित फेंसिंग तार की चपेट में आकर झुलस गये। आनन फानन में उन्हे अस्पताल में ले जाया गया, जहां डाॅक्टर ने दोनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया। वहीं इस घटना से नाराज ग्रामीणों ने बिजली विभाग पर लापरवाही का गंभीर आरोप लगाया है।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

मासूम बच्चों के मौत की घटना बलौदा थाना क्षेत्र की है। जानकारी के मुताबिक शनिचराडीह गांव में रहने वाले 2 बच्चे शाम के वक्त घर के पास लगी बाड़ी के पास खेल रहे थे। इस दौरान गली में लगे खंभे के नीचे बाड़ी को फेंसिंग तार को पार करते वक्त दोनों बच्चे बिजली की चपेट में आ गये। बताया जा रहा है कि बिजली पोल से विद्युत प्रवाहित एक तार नीचे फेंसिंग तार को टच कर रहा था। जिससे करंट प्रवाहित फेंसिंग तार की चपेट में आकर दोनों बच्चे बुरी तरह झुलस गये। इस घटना में 5 साल का रुद्र कुमार और 4 साल का गुलशन कुमार मौके पर ही बेहोश हो गये।

घटना की जानकारी मिलते ही दोनों बच्चों को परिजनों द्वारा बलौदा अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां परीक्षण के बाद डाॅक्टर ने दोनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया।इस घटना की जानकारी के बाद पुलिस ने इस घटना पर मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। बलौदा थाना प्रभारी अशोक वैष्णव ने बताया कि दो बच्चों की करंट लगने से मौत की सूचना मिली थी। फेंसिंग तार में करंट कैसे पहुंचा, पुलिस इस बात की जांच कर रही है। ग्रामीणों द्वारा विद्युत विभाग की लापरवाही का आरोप लगाया गया है। जांच के बाद जो भी दोषी पाया जायेगा, उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर गिरफ्तारी की जायेगी।

Back to top button