क्राइम

CG : रोजगार सहायक ने नाबालिग बच्ची को बनाया हवस का शिकार, पानी भरने के बहाने बुलाकर दिया घटना को अंजाम

जीपीएम 21 मई 2024। गौरेला पेण्ड्रा मरवाही जिला में दिव्यांग रोजगार सहायक पर दुष्कर्म का गंभीर आरोप लगा है। आरोप है कि दिव्यांग होने की लाचारी बताकर आरोपी ने 10 साल की बच्ची को हैंडपंप से पानी भरने के बहाने घर में बुला लिया। इसके बाद आरोपी ने बच्ची को बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। पीड़ित बच्ची और उसके परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

नाबालिग बच्ची के साथ रेप की ये घटना पेंड्रा थाना क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक पेंड्रा थाना क्षेत्र में संतोष कुमार केवट रोजगार सहायक के पद पर कार्यरत है। आरोप है कि शारीरिक रूप से दिव्यांग संतोष कुमार ने घर के ठीक सामने लगे हैंडपंप से पानी भरने के बहाने 10 साल की नाबालिग को घर में बुला लिया था। जब नाबालिग पानी लेकर अंदर आई, तो दिव्यांग संतोष केवट ने उसे बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया।

इस घटना से डरी-सहमी बच्ची ने घर पहुंचकर अपनी मां को पूरी घटना की जानकारी दी। पीड़िता के घर के अन्य सदस्य रोजी मजदूरी करने दूसरे प्रदेश गए हुए थे। लिहाजा आरोपी रोजगार सहायक पीड़िता की मां और उसकी बेटी को रोजगार सहायक होने की धमकी देकर मामले को दबाने की लगातार कोशिश करता रहा। इसके साथ ही पीड़ित बच्ची और उसकी माँ को थाने न जाने की धमकी भी देता रहा।

घटना के लगभग 20 दिन बाद किसी तरह हिम्मत जुटा कर पीड़ित परिवार ने पेंड्रा थाने में पूरे मामले की रिपोर्ट दर्ज कराया गया। घटना का खुलासा होने के बाद पुलिस ने तत्काल मामले पर संज्ञान लेकर आरोपी रोजगार सहायक संतोष केवट के खिलाफ अपराध दर्ज कर उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के बाद न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

Back to top button