क्राइम

CG : बाॅयफ्रेंड से पति की हत्या करवाई, फिर यकीन नही होने पर दोबारा लाश देखने बाॅयफ्रेंड के साथ पहुंची पत्नी, हत्या का राज खुला तो….

रायपुर 16 जून 2024। राजधानी रायपुर में एक महिला ने अपने ही पति की हत्या की साजिश रच दी। बताया जा रहा है कि अपने बाॅयफ्रेंड के साथ मिलकर महिला ने पहले तो पति की हत्या करवा दी। बॉयफ्रेंड जब हत्या करके वापस आया, तो उसकी बातों पर महिला को यकीन नही हुआ। जिसके बाद दूसरे दिन महिला अपने बॉयफ्रेंड के साथ पति की लाश देखने नदी के पास पहुंची। पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल पत्नी उसके प्रेमी सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

रिश्तों के कत्ल की ये सनसनीखेज वारदात पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र की है। जानकारी के मुताबिक पुलिस को 10 जून को एक युवक की भाठागांव स्थित केसरी बगीचा के पास लाश मिली थी। संदिग्ध हालत में मिले लाश की पहचान के लिए पुलिस ने मृतक की फोटो सभी थानों में भिजवाया था। दो दिन बाद मृतक की पत्नी मीना यादव ने थाने पहुंचकर मृतक को अपने पति विधाता यादव के रूप में पहचान की थी। इस बीच लाश की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पुलिस के समक्ष आ गई। जिसमें मृतक की हत्या किये जाने की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर मामले की जांच नये सिरे से शुरू की। जांच के दौरान पुलिस ने मृतक के मोबाइल का कॉल डिटेल खंगाला गया, तो उसमें पत्नी मीना यादव का मोबाइल नंबर दिखा।

इसके बाद पुलिस ने पत्नी के कॉल डिटेल की जांच की तो एक अन्य व्यक्ति के साथ मीना यादव की बातचीत की जानकारी पुलिस के सामने आयी। ये फोन नंबर मौदाहापारा के रहने वाले अमजद खान का था। जानकारी मिली कि मृतक विधाता यादव इसी व्यक्ति से किराए पर ऑटो लेकर चलाता था। पुलिस की जांच में पता चला कि विधाता यादव की पत्नी मीना यादव का अमजद खान के साथ अवैध संबंध थे। उसी ने मीना को मोबाइल फोन और सिम खरीद कर दिया था। जिससे दोनों आपस में बात अक्सर बाते किया करते थे। इस अफेयर की जानकारी विधाता यादव को होने के बाद अक्सर पति-पत्नी के बीच विवाद होता था। जिससे तंग आकर मीना अपने पति को रास्ते से हटाना चाहती थी।

संदेह के आधार पर पुलिस ने अमजद खान और मृतक की पत्नी मीना को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू किया गया। संख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी टूट गये और उन्होने इस हत्याकांड की अंजाम देने की बात कबूल कर ली। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि मीना अक्सर अपने पति की हत्या को लेकर अमजद खान पर दबाव बनाती थी। अवैध संबंध को बरकरार रखने के लिए अमजद खान ने मीना के पति की हत्या करने के लिए अन्नू प्रजापति का सहयोग लिया। अन्नू भी अमजद से किराए पर ऑटो लेकर चलाता था। अमजद ने मीना और अन्नू के साथ मिलकर विधाता को जान से मारने की पहले प्लानिंग की। जिसके बाद अन्नू और अमजद ने विधाता को घटना के दिन शराब पार्टी के लिए बुलाया। तीनों ने भाठागांव के सुनसान केसरी बगीचा के पास बैठकर पहले शराब पी।

इसके बाद नशे में धुत्त होने के बाद विधाता के सिर पर लोहे की पटिया से आरोपियों ने वार कर दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। इसके बाद आरोपियों ने लाश को नदी में फेंक दिया। हत्या के दौरान मीना अपने पति विधाता और प्रेमी दोनों को बार-बार फोन करते रही। हत्या करने के बाद जब अमजद ने मीना को उसके पति को मार देने की जानकारी दी, तब भी उसे यकीन नही हुआ। इसके बाद वह लाश देखने की जिद करने लगी। मीना यादव की जिद्द से परेशान होकर अगले दिन अमजद उसे स्कूटी में बैठाकर घटनास्थल पर ले गया। नदी में बहाव कम होने से लाश खारुन नदी के ऊपर ही तैर रही थी। पति की लाश देखकर मीना यादव शांत हुई। हत्या के इस सनसनीखेज वारदात का खुलासा होने के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को अरेस्ट कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया है।

Back to top button