पॉलिटिकलहेडलाइन

CG POLITICS : पूर्व प्रदेश प्रभारी सैलजा को लेकर गरमायी राजनीति, पूर्व मंत्री डहरिया बोले…कांग्रेस के बागी BJP के लिए इलेक्शन मटेरियल, पलटवार में बीजेपी नेता ने कहा दी ये बड़ी बात….!

रायपुर 21 मई 2024। लोकसभा चुनाव के बीच छत्तीसगढ़ की पूर्व प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा को लेकर राजनीति गरमा गयी है। बीजेपी में शामिल कांग्रेस के बागी नेताओं को कुमारी सैलजा ने मानहानि का नोटिस दिया है। जिसे लेकर पूर्व मंत्री शिव डहरिया ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा….कांग्रेस से गए यह नेता भाजपा के लिए इलेक्शन मटेरियल है। पूर्व मंत्री के इस बयान पर बीजेपी नेता आलोक पांडेय ने पलटवार करते हुए शिव डहरिया को टोटी चोर बताते हुए हमे सीख न देने की सलाह दे दी।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ की पूर्व प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा मौजूदा वक्त में हरियाणा के सिरसा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही है। ऐसे में कुमारी सैलजा के चुनाव क्षेत्र में बीजेपी उन्ही की पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए बागी कांग्रेस नेताओं का कैम्प करवा रही है। इन बागी नेताओं के द्वारा कुमारी सैलजा पर छत्तीसगढ़ की प्रभारी रहते टिकट वितरण के नाम पर पैसा वसूलने का गंभीर आरोप लगाया जा रहा है। जिसे लेकर कुमारी सैलजा ने पिछले दिनों कांग्रेस पार्टी से बागी होकर बीजेपी ज्वाइन करने वाले 11 नेताओं को मानहानि का नोटिस जारी किया था।

नोटिस में कुमारी सैलजा की तरफ से स्पष्ट किया था कि यदि वो लोग माफी नहीं मांगते है, तो जाहिर है कि कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। गलत आरोप लगाने के लिए इन्हें सजा भी हो सकती है। चुनाव खत्म होते ही इनकी अनिवार्यता खत्म हो जाएगी। जब ये कांग्रेस पार्टी के नहीं हो सके, तो भाजपा के क्या होंगे ? कुमारी सैलजा के इस नोटिस के बाद पूर्व मंत्री और जांजगीर लोकसभा से कांग्रेस प्रत्याशी शिव डहरिया ने कहा कि….छत्तीसगढ़ के 11 पूर्व कांग्रेसी नेता अब बीजेपी में शामिल हो गए हैं। भाजपा इन्हें इलेक्शन मटेरियल की तरह यूज कर रही है। कुमारी सैलजा पर आरोप लगाना घटिया मानसिकता है।

शिव डहरिया के इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा नेता आलोक पांडेय ने उन्हें टोटी चोर बता दिया। आलोक पांडेय ने कहा कि शिव डहरिया ने हमको भाजपा का टूल किट और इलेक्शन मटेरियल कहा है, मैं उनसे कहना चाहूंगा कि आप चाटुकारिता की राजनीति करते हैं। उन्होंने कहा कि शिव डहरिया हम लोगों के ऊपर कानूनी कार्रवाई करने और जेल भेजने की बात कर रहे हैं। लेकिन उन पर खुद गरीब-मजदूरों की जमीन हथियाने का आरोप है। इन्होंने मंत्री बंगले से टीवी, एसी और टोटी चोरी की है। ऐसे टोटी चोरों को हमें सीख देना शोभा नही देता है।

Back to top button