क्राइम

CG : पुलिस अफसर बताकर डॉक्टर से ठग लिये 5 लाख रूपये, पहले न्यूड वीडियों काॅल कर बना लिया अश्लील वीडियों, फिर ठगों ने डाॅक्टर को बनाया शिकार

अंबिकापुर 1 जुलाई 2024। अंबिकापुर के एक डॉक्टर को शातिर ठगों ने शिकार बनाकर 5 लाख रूपयें ऐंठ लिये। बताया जा रहा है कि एक युवती ने पहले तो डॉक्टर को सोशल साइट पर फ्रेंड बनाया, फिर न्यूड कॉल कर डाॅक्टर के साथ स्क्रीन रिकार्ड कर लिया। इसके बाद ठगों ने खुद को दिल्ली का पलिस अधिकारी बताकर वीडियो हटाने के नाम पर पांच लाख रुपये की ठगी कर ली। ठगों की धमकी और ब्लैकमेलिंग का शिकार होने के बाद पीड़ित डाॅक्टर ने इस घटना की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करायी है।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

अननोन नंबर से आने वाले वीडियों काॅल को झट से रिसीव करने वालों के लिए ये खास तौर पर खबर है। जीं हां साइबर ठगी करने वाले शातिर ठग अब लड़कियोें के जरिये न्यूड वीडियों काॅल करवाने के बाद सामने वाले शख्स को पुलिस अधिकारी बनकर ब्लैकमेल कर रहे है। ताजा मामला अंबिकापुर जिला के गांधीनगर थाना क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक अंबिकापुर के डॉक्टर बी.व्ही.एस. राम ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराया है। उन्होने बताया कि उनके फेसबुक एकाउंट पर 06 जून 2024 को श्रुती कुमारी के नाम से फ्रेंड रिक्वेस्ट आया था। डा. राम ने उसे पूर्व परिचित समझकर फ्रेंड रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट कर लिया।

इसके ठग गिरोह की लड़की ने मोबाईल से वाट्सअप मैसेज कर वीडियो काल करने को कहा गया। इसके बाद डाॅ.राम के पास कई बार वीडियो कॉल आये, लेकिन उन्होने रिसीव नही किया। लड़की के द्वारा बार-बार बोलने पर डा. राम ने वीडियो कॉल एक्सेप्ट किया, तो स्क्रीन पर एक निवस्त्र लड़की खड़ी थी। डा. राम ने बताया कि उन्होंने तत्काल वीडियो काल कट कर दिया। लेकिन इतनी ही देर में उनका स्क्रीन शॉट व स्क्रीन रिकार्ड ठगों ने कर लिया। जिस नंबर से उन्हें वीडियो कॉल आया था, उसी नंबर से डा. राम को अश्लील क्लीप का स्क्रीन शॉट भेजा गया। इसमें एक तरफ डा. राम का चेहरा एवं दूसरी ओर निवस्त्र लड़की खड़ी दिखाई दी। मोबाइल धारक ने डॉक्टर को उक्त अश्लील फोटो वीडियों वायरल कर यू ट्यूब पर अपलोड करने को लेकर धमकाते हुए पैसों की मांग की गयी।

पीड़ित डाॅक्टर ने बताया कि वह कुछ समझ पाते इसी बीच एक दूसरे नंबर से उनका वीडियो यू ट्यूब पर अपलोड किए जाने के मैसेज मिले। उनके नंबर पर एक शख्स ने खुद को दिल्ली पुलिस का आईपीएस अधिकारी संजय अरोरा बताकर अज्ञात यू-ट्यूब पर अश्लील वीडियों अपलोड होने की शिकायत मिलने की बात कहकर धमकाया जाने लगा। पुलिस अधिकारी बनकर ठगों ने डाॅ.राम को झांसे में ले लिया और वीडियो डिलिट कर बचाने की बात कहते हुए अब तक उनसे 5 लाख रूपये वसूल लिये। ठगी का शिकार हुए डाॅ.राम की शिकायत पर गांधीनगर पुलिस ने अज्ञात युवती सहित चार मोबाइल नंबर धारकों के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

Back to top button