हेडलाइन

CG- शिक्षा विभाग में फिर शुरू हुआ अटैचमेंट का खेल, कई शिक्षकों का नियम विरुद्ध अतिशेष बताकर किया गया अटैच

मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी 29 जून 2024। शिक्षा विभाग ने यूं तो कई बार शिक्षकों के अटैचमेंट को रद्द करने का आदेश जारी किया है, लेकिन निचले स्तर पर अधिकारी उन फरमानों को पलीता लगा देते हैं। खासकर जब अतिशेष व अटैचमेंट की बारी आती है तो नियम कायदा-कानून सब ठेंगे पर चला जाता है। मोहला, मानपुर, अंबागढ़, चौकी जिले में सौ से ज्यादा शिक्षक-शिक्षिकाओं को मूल शाला के स्थान पर दूसरी जगह पर अटैच कर दिया गया है। हालांकि ये किस नियम के तहत किया गया है, इसका जवाब किसी भी अधिकारी के पास नहीं है।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

कमाल की बात ये है कि कई व्याख्याता भी अटैच किये गये हैं। जबकि शासन का नियम है कि जिला शिक्षा अधिकारी को व्याख्याता का अटैचमेंट करने का कोई पावर नहीं है। फिर भी यहां डीईओ ने शिक्षक शिक्षिकाओं का अटैच कर दिया है।खबर है कि नियमों के खिलाफ जाकर प्रधान पाठक, व्याख्याता को जहां अतिशेष बता दिया गया है, वहीं प्राथमिक शाला में पदस्थ शिक्षिका को अंग्रेजी माध्यम आत्मानंद के मिडिल स्कूल में अटैच कर दिया गया है।

जारी आदेश के मुताबिक प्रधान पाठिका रामदुलारी साहू को प्राथमिक शाला मरकाटोला मोहला से प्राथमिक शाला नाडेकल, ललित कोमा आश्रम शाला घासीटोला से प्राथमिक शाला चमराटोला, प्रधान पाठक मोहनलाल मांडवी नवीन प्राथमिक शाला कोहका मानपुर से प्राथमिक शाला कामकासुर आदि को अतिशेष बताकर अन्यत्र संलग्न कर दिया गया है।

सहायक शिक्षिका ममता बघेल को अंग्रेजी माध्यम आत्मानंद के मिडिल स्कूल में अटैच कर दिया गया है।वहीं व्याख्याता संस्कृत मनोज कुमार, आशीष साहू व्याख्याता गणित, व्याख्याता अर्जुन दास साहू, विजय लहरे व्याख्याता संस्कृत, सिद्धेश्वरी वर्मा व्याख्याता गणित आदि व्याख्याताओं का थोक के भाव में अटैचमेट कर दिया गया है।

Back to top button