Business

19 जून को खुलेगा डुर्लैक्स टॉप सरफेस का आईपीओ, जानिए सभी जरूरी डीटेल्स

डुर्लैक्स टॉप सरफेस ने अपने इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) के जरिए करीब 40.80 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बनाई है. सॉलिड सरफेस के कारोबार से जुड़ी कंपनी को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के एनएसई इमर्ज प्लेटफॉर्म (NSE Emerge Platform) पर अपना आईपीओ लाने की मंजूरी मिल गई है.

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

19 जून को खुलेगा डुर्लैक्स टॉप सरफेस का आईपीओ, जानिए सभी जरूरी डीटेल्स

19 जून को खुलेगा आईपीओ

बयान के अनुसार, आईपीओ 19 जून को खुलेगा और 21 जून को बंद होगा. इसमें 28.56 करोड़ रुपये तक के 42 लाख फ्रेश इश्यू और 12.24 करोड़ रुपये तक के 18 लाख शेयर की बिक्री पेशकश शामिल है. 28.56 करोड़ रुपये के फ्रेश इश्यू में से कंपनी की योजना 17.50 करोड़ रुपये का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल जरूरतों की फंडिंग के लिए और 6 करोड़ रुपये का उपयोग सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए करने की है.

प्राइस बैंड 65-68 रुपये प्रति शेयर तय

कंपनी ने इसके लिए प्राइस बैंड 65-68 रुपये प्रति शेयर तय किया है. निवेशक न्यूनतम 2,000 शेयरों और उसके मल्टीपल में बोली लगा सकते हैं. श्रवण सुथार और ललित सुथार सहित प्रमोटरों के पास कंपनी में लगभग 95 फीसदी हिस्सेदारी है, जबकि पब्लिक शेयरधारकों के पास लगभग 5 फीसदी हिस्सेदारी है. कंपनी ने कहा, प्रवर्तक की हिस्सेदारी प्री-इश्यू 95.44 फीसदी है, जो इश्यू के बाद 60.35 फीसदी हो जाएगी.

Read more : Oppo Reno 12 और Reno 12 Pro स्‍मार्टफोन्‍स की कीमत लीक, जल्द होगा लॉन्च

प्रमोटर श्रवण कुमार, जिनके पास 66.94 फीसदी इक्विटी हिस्सेदारी या 83,01,399 लाख शेयर हैं, ओएफएस रूट के माध्यम से 18 लाख शेयर बेच रहे हैं. 2010 में स्थापित डर्लैक्स टॉप सरफेस लिमिटेड सॉलिड सरफेस सामग्री बनाती है. कंपनी के दो ब्रांड हैं, जिनका नाम है LUXOR और ASPIRON.

19 जून को खुलेगा डुर्लैक्स टॉप सरफेस का आईपीओ, जानिए सभी जरूरी डीटेल्स

गुजरात स्थित कंपनी ने वित्त वर्ष 2023-24 के लिए 90.84 करोड़ रुपये का राजस्व और 5.05 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट दर्ज किया था. एक्सपर्ट ग्लोबल कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड एकमात्र बुक रनिंग लीड मैनेजर है, जबकि बिगशेयर सर्विसेज इस इश्यू के लिए रजिस्ट्रार है.

 

Back to top button