हेडलाइन

IG अमरेश मिश्रा के कड़े तेवर, गलत जांच करने वाले विवेचकों को जारी हुआ शो-कॉज

रायपुर  30 जून 2024। रायपुर आईजी अमरेश मिश्रा ने समीक्षा बैठक में तल्ख तेवर दिखाये हैं। दोषमुक्त प्रकरणों की समीक्षा के दौरान आईजी अमरेश मिश्रा ने कई गंभीर खामियां पायी है। संदिग्ध प्रकरणों को भी क्लीन चिट दे दिया गया, तो कई मामलों की सही ढंग से विवेचना ही नहीं की गयी, जिसके बाद आईजी अमरेश मिश्रा ने कई थाना के जांचकर्ताओं को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया गया है।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

आज रायपुर आईजी अमरेश मिश्रा ने दोषमुक्त प्रकरणों की समीक्षा की, इस समीक्षा बैठक में पुलिस अफसरों के अलावे लोक अभियोजक भी मौजूद थे। बैठक में धमतरी और गरियाबंद जिले के दोषमुक्त प्रकरणों की समीक्षा की गयी। कई मामलों में दिये गये क्लीन चिट प्रकरणों की समीक्षा की गयी, प्रकरण की जांच में कई स्तर पर गड़बड़ियां पायी गयी।

जांच के दौरान ये भी पाया गया, कि जांच की खामियों की वजह से आरोपियों को दोषमुक्त कर दिया गया, जिसके बाद आईजी ने इसे गंभीरता से लेते हुए थानों के विवेचकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। आईजी ने 14 दोषमुक्त प्रकरणों में त्रुटिपूर्ण विवेचना को लेकर कारण सहित जवाब मांगा है। जिन मामलों की समीक्षा की गयी है, उसमें गंभीर प्रकरणों जैसे एनडीपीएस, पॉक्सो, यूएपीए, हत्या, आईटी एक्ट प्रकरण से जुड़े मामले शामिल हैं।

Back to top button