हेडलाइन

VIDEO : शराब घोटाले के आरोपी को लेकर जेल परिसर में जमकर बवाल, जेल से निकलते ही अनबर ढेबर को UP एसटीएफ ने पकड़ा, तो पुलिस से समर्थक भिड़े

रायपुर 18 जून 2024। शराब घोटाले के आरोपी को लेकर रायपुर सेंट्रल जेल परिसर में जमकर बवाल हुआ। अनवर ढेबर के समर्थक और यूपी पुलिस के बीच काफी देर तक तनातनी होती रही। आखिरकार किसी तरह से मामले को शांत कराया गया। दरअसल शराब घोटाले में जेल में बंद अनवर ढेबर को हाईकोर्ट से पिछले दिनों जमानत मिली थी। जमानत आदेश पहुंचने के बाद सेंट्रल जेल से अनवर ढेबर की आज शाम रिहाई हुई।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

लेकिन रिहाई होते ही जेल परिसर में पहले से ही मौजूद यूपी पुलिस ने अनवर ढेबर को अपने साथ ले जाने की कोशिश की। इसी बात पर अनवर ढेबर के समर्थक और यूपी पुलिस के बीच विवाद शुरू हो गया। दरअसल यूपी एसटीएफ की टीम नकली होलोग्राम मामले में गिरफ्तार करने अनवर ढेबर को जेल पहुंची थी। इस बीच जब जेल से अनवर ढेबर निकला तो उनके समर्थक और परिवार वालों ने गिरफ्तारी का विरोध किया।

पुलिस अनवर ढेबर को गिरफ्तार करना चाह रही थी, लेकिन उसके समर्थक परिवार वाले अनवर ढेबर को एंबुलेंस में बैठकर अस्पताल ले जाने लगे। पुलिस ने एंबुलेंस के सामने खड़े होकर एंबुलेंस को रोका फिर बाद में एसटीएफ के जवान एंबुलेंस में सवार हुए और आगे छत्तीसगढ़ की पुलिस उसे जेल से बाहर ले गई। करीब आधा घंटे तक जमकर गहमा गहमी होती रही। कल मेरठ कोर्ट में अनवर को पेश किया जाएगा। अनवर ढेबर पर छत्तीसगढ़ समेत दूसरे अन्य राज्यों में नकली शराब और होलोग्राम बनाने का आरोप है।

रात करीब साढ़े 10 बजे अनबर ढेबर को कड़ी सुरक्षा के बीच रायपुर के सिविल लाइन थाने लाया गया। इधर सिविल लाइन थाना छावनी में तब्दील कर दिया गया। ढेबर के परिजन एम्बुलेंस को हॉस्पिटल ले जाने की मांग कर रहे थे। इधर अनबर ढेबर को लेकर आयी एम्बुलेंस को अंदर बंद किया गया। UPSTF ने वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी सूचना दे दी गयी है। UPSTF के जवान मौके पर मौजूद हैं।

एपी त्रिपाठी को भी यूपी ले जायेगी पुलिस

इस शराब घोटाले में एक और जानकारी सामने आयी है। एपी त्रिपाठी को कल मेरठ कोर्ट में पेश किया जायेगा। अनवर ढेबर के साथ-साथ एपी त्रिपाठी को भी UPSTF की टीम यूपी ले जा रही है। प्रोडक्शन वारंट व कोर्ट अनुमति से आरोपियों को पेश किया जा रहा है। फस्ट एडिशनल सेशन जज पीसी कोर्ट ने अनुमति दी है। यूपी पुलिस रिमांड की मांग कर सकती है। एपी त्रिपाठी को सिविल लाइन थाना लाया गया। जहां से उन्हें यूपी ले जाया जा रहा है।

Back to top button