हेडलाइन

छत्तीसगढ़ में सख्ती बढ़ी, तो हैदराबाद पहुंच गये छत्तीसगढ़ के सटोरिये, हैदराबाद से छह दबोचे गये

दुर्ग 2 जुलाई 2024। दुर्ग पुलिस को महादेव ऐप सट्टा के मामले में एक और सफलता मिली है।दुर्ग पुलिस की एसीसीयू की टीम ने हैदराबाद में महादेव सट्टा ऐप का पैनल चलाने वाले 6 सटोरियों को गिरफ्तार किया है। सभी सटोरिए दुर्ग ज़िले के भिलाई के रहने वाले हैं। क्राइम एडिशनल एसपी ऋचा मिश्रा ने बताया की पुलिस को इनपुट मिला कि भिलाई से युवक विनय यादव हैदराबाद में महादेव सट्टा ऐप का पैनल चला रहे हैं।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

इसके आधार पर दुर्ग पुलिस की एक टीम को हैदराबाद रवाना किया गया।लगभग चार दिन हैदराबाद में रहकर पुलिस ने लोकेशन सर्च किया, जहां एक मकान में छापामार कार्यवाही की।जहां पैनल संचालित करते एक नाबालिग समेत छह युवकों को गिरफ्तार किया है।दुर्ग क्राइम ब्रांच की टीम तेलंगाना के गच्चीबाउली पहुंची।जहां भिलाई के कैंप निवासी सुजीत साव के द्वारा पैनल चल रहा था और कार्यवाही के दौरान एक आरोपी तीसरे माले से छलांग लगा दी।

पुलिस ने जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।जहां उसकी इलाज जारी है।वहीं अन्य आरोपियों को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर दुर्ग लगाया गया। पकड़े गए आरोपियों में बी चंदू, अभिषेक वर्मा,हिमांशु चौहान, उदय,उमा, सुजीत साव समेत एक नाबालिग शामिल है। पुलिस ने उनके पास से 5 लैपटॉप, 18 मोबाइल, 4 एटीएम कार्ड, 5 लाख रुपये का सोने के जेवरात,एक ग्लांजा कार और भारी मात्रा में हिसाब किताब के अन्य दस्तावेज जप्त किया है उसकी कीमत लगभग 25 लाख रुपए आंका गया है। उन्होंने कहा कि इन सभी आरोपियों के बैंक खातों में दो महीने में लगभग सवा करोड़ का कारोबार हुआ है।

Back to top button