देश

इस साल भारत में नहीं हो रहा Moto GP, कारण जानकर होगा दुख

मोटो जीपी भारत के नए सेशन की शुरुआत होने ही वाली थी। लेकिन अब यह बाइक रेस भारत में नहीं होगी। हाल ही में यह खबर सामने आई है कि इस बार मोटोजीपी का आयोजन भारत में नहीं किया जाएगा।

WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.57 PM
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.58 PM (1)
WhatsApp Image 2024-07-06 at 2.31.56 PM
previous arrow
next arrow

इस साल भारत में नहीं हो रहा Moto GP, कारण जानकर होगा दुख

आयोजकों की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार मोटोजीपी इंडिया के आयोजन की तारीख को बढ़ा दिया गया है। यानी कि फिलहाल यह भारत में नहीं होने वाली है इसे मार्च 2025 में रीशेड्यूल कर दिया गया है।

रेसिंग की दुनिया में सबसे बड़े मोटरसाइकिल रेस का आयोजन भारत में किया जाने वाला था। लेकिन इसे आयोजित करने वाली कंपनियों ने उत्तर प्रदेश सरकार के साथ मिलकर इसकी तिथि को आगे बढ़ा दिया है।

क्या है Moto GP Bharat के कैंसल होने का कारण?

मीडिया में जब यह खबर लीक हुई तो रेस प्रेमियों के बीच निराशा छा गया है। सभी जानना चाहते हैं कि आखिर इतने सफल आयोजन के बाद मोटोजीपी को इस साल क्यों नहीं करवाया जा रहा है? तो आपको बता दे इसके पीछे का कारण गर्मी है।

पिछले साल सितंबर के महीने में इसका आयोजन किया गया था और उस समय भी रैसर्स ने भीषण गर्मी की शिकायत की थी। स्थिति ऐसी बनी थी कि कुछ रेसर्स की तबीयत भी खराब हो गई थी।

Read more : मात्र 2000 रुपये की कीमत में घर लाएं Redmi 13C 5G स्मार्टफोन, जानिये ऑफर डिटेल और कीमत

और अभी हम देख रहे हैं कि दिल्ली एनसीआर में तापमान काफी ज्यादा है। इसी को देखते हुए कोई अप्रिय घटना ना हो जाए इसलिए इसे फिलहाल स्थगित कर दिया गया है। इस मार्च 2025 में इसलिए किया गया है कि उसे समय तक भारत में मौसम काफी सुहाना रहता है।

ठंड के कारण ढूंढ नहीं लगती और तापमान भी ज्यादा नहीं होता है यह एक अच्छा समय है जब इस देश का आयोजन किया जा सकता है।

इस साल भारत में नहीं हो रहा Moto GP, कारण जानकर होगा दुख

पिछले साल Moto GP Bharat का विजेता

पिछले साल सितंबर के महीने में ग्रेटर नोएडा स्थित बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में प्रेसिंग की दुनिया के सबसे मशहूर चैंपियनशिप मोटोजीपी की शुरुआत हुई थी। 3 दिनों तक चले इस आयोजन के फाइनल में कुल 11 टीम और 22 राइडर्स ने हिस्सा लिया था। भारत में आयोजित होने वाले इस रेस को इटालियन देश कर मार्को बजेची (Marco Bezzecchi) ने जीता था।

Back to top button